Trending

महाविद्यालयों में गिरते शैक्षणिक माहौल के लिए राज्य सरकार जिम्मेदार : अमीन हमजा

State Government responsible for falling educational environment in colleges Amin Hamja Samastipur Now
0 17
Above Post Campaign

बेगूसराय: Colleges में Falling educational environment का मुख्य कारण State Government द्वारा शिक्षकों व कर्मचारियों की बहाली नहीं करना है. जबसे नीतीश कुमार मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बैठे हैं तबसे महाविद्यालयों- विश्वविद्यालय में शिक्षकों की बहाली छात्र अनुपात में नहीं हुई है. एक साजिश के तहत बिहार भर के छात्रों को शिक्षा से वंचित करने में Nitish Kumar लगे हैं. छात्र-नौजवान को शिक्षा विरोधी तानाशाही रवैया के खिलाफ संगठित होकर लड़ाई लड़ना होगा. हमारा संगठन बिहार भर में महाविद्यालय-विश्वविद्यालय के छात्रों को इकट्ठा कर आंदोलन का रास्ता अख्तियार करेगा.

Monday को GD College के सभा हॉल में AISF के GD College इकाई सम्मेलन सह सम्मान समारोह को संबोधित करते हुए प्रदेश उपाध्यक्ष अमीन हमजा ने ये बातें कही. महाविद्यालय के गिरते शैक्षणिक माहौल विषय पर सेमिनार में मुख्य अतिथि पद से बोलते हुए प्रदेश उपाध्यक्ष ने कहा कि राज्य का कोई ऐसा महाविद्यालय नहीं है जो शिक्षकों की कमी को नहीं झेल रहा हो. जब शिक्षक ही नहीं होंगे तो शैक्षिक माहौल कैसा होगा सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है. AISF ने इस व्यवस्था के खिलाफ लड़ाई लड़ने का निर्णय लिया है. जिसमें आपका साथ चाहिए.

State Government responsible for falling educational environment in colleges Amin Hamja Samastipur Now

नगर निगम के उपमहापौर राजीव रंजन ने कहा कि शिक्षा का बाजारीकरण, निजीकरण एवं सांप्रदायिकरण करने की साजिश चल रही है. इस साजिश को रोकने की एआईएसएफ की लड़ाई में हम साथ हैं. उन्होंने कहा कि बेगूसराय की शैक्षणिक माहौल के जिम्मेदार एक हद तक महाविद्यालय प्रशासन भी जिम्मेदार है. इससे उबरने के लिए छात्रों को संगठित होकर लड़ाई लड़ने की जरूरत है.

District President Sajag Singh ने कहा कि जिले के सारे महाविद्यालय परिसर डिग्री बांटने का अड्डा बन चुका है. महाविद्यालय में छात्र कम उचक्कों का जमावड़ा अधिक हो गया है. छात्र संगठन के नाम पर नामांकन में प्राचार्य की मिलीभगत से भारी मात्रा में छात्रों से आर्थिक उगाही धंधा बन गया है. दोहन- शोषण व छात्रों के साथ मारपीट करना आमबात है. ऐसे तत्वों पर नकेल कसने के लिए AISF की इस इकाई सम्मेलन के मौके पर हम संकल्प लेते हैं कि जुल्म के खिलाफ संघर्ष जारी रहेगा.

Middle Post Banner 1
Middle Post Banner 2

जिला सचिव किशोर कुमार ने कहा कि संगठन का अपना क्रांतिकारी इतिहास रहा है. हमारा संगठन महाविद्यालयों में शैक्षणिक माहौल कायम करने के लिए लगातार लड़ता आया है. विश्वविद्यालय अध्यक्ष रूपक कुमार ने कहा कि संगठन विश्वविद्यालय में लोकतंत्र बहाल के लिए लगातार अपनी लड़ाई जारी रख रहा है. समान शिक्षा प्रणाली लागू करने के लिए संगठन लगातार संघर्षरत है.

सम्मेलन में सम्मानित किये गये ताइक्वांडो व कराटे खिलाड़ी

सेमिनार के दौरान संगठन के साथी कैसर रिहान को अंतरराष्ट्रीय ताइक्वांडो में देश का नाम रोशन करने, ताजुद्दीन, सोनू सुमित, दीपक, अंशु, प्रियांशु को कराटे में बेगूसराय और बिहार का नाम रोशन करने पर नीरज स्मृति सम्मान से सम्मानित किया गया. सेमिनार का उद्घाटन भाषण रामागार सिंह ने किया. समापन भाषण जिला कोषाध्यक्ष अमरेश कुमार ने किया जबकि सेमिनार की अध्यक्षता सगुफी, अमरेश, फैजी ने संयुक्त रूप से की. मंच संचालन राकेश कुमार ने किया.

नयी कमेटी का किया गया गठन

सेमिनार उपरांत सम्मेलन का सांगठनिक सत्र चला जिसमें 25 सदस्यीय इकाई का गठन किया गया. जिसमें अध्यक्ष गौरव कुमार, सचिव प्रद्युम्न कुमार, उपाध्यक्ष परवीन वत्स, कोमल कुमारी, सहसचिव विक्रम कुमार को बनाया गया जबकि कोषाध्यक्ष गौरव गौतम को बनाया गया. मौके पर जिला उपाध्यक्ष समा परवीन, जिला सहसचिव सदरे आलम, शंभू देवा, पूर्व जिला सचिव अमित कुमार बिट्टू, सोनी कुमारी, काजल राय त्यागी सहित सैकड़ों छात्र थे.

Below Post Banner
After Tags Post Banner 1
After Tags Post Banner 2
After Related Post Banner 1
After Related Post Banner 2
After Related Post Banner 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Close