Trending

बिहार में शराब की हो रही होम डिलीवरी

0 52
Above Post Campaign

बिहार : बिहार में शराब की होम डिलीवरी हो रही है. सूबे में शराबबंदी पूरी तरह से फ्लॉप है. शराबबंदी को लेकर राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने बिहार की नीतीश सरकार पर तीखा हमला किया. वे रांची जाने से पहले पटना में मीडिया से बात कर रहे थे.

दरअसल लालू प्रसाद की सोमवार को रांची के सीबीआई कोर्ट में पेशी है. यह पेशी चारा घोटाला मामले में है. इसके लिए लालू प्रसाद रविवार की शाम में ही रांची पहुंच गये. रांची जाने से पहले वे पटना में पत्रकारों से बात कर रहे थे. उनका निशाना रोहतास में जहरीली शराब से चार लोगों की हुई मौत पर था.

लालू प्रसाद ने गुजरात चुनाव पर भी बोले. उन्होंने कहा कि कांग्रेस बुलाएगी तो वे गुजरात चुनाव में प्रचार करने के लिए जाएंगे. उन्होंने इसके साथ ही जदयू पर भी तंज कसा. उन्होंने कहा कि बिहार में भी गुजरात की तरह जदयू व भाजपा अलग अलग चुनाव लड़ेंगे.

Middle Post Banner 2
Middle Post Banner 1

इतना ही नहीं, लालू प्रसाद ने गुजरात के लोगों से यह भी अपील की कि इस बार नरेंद्र मोदी की गुजरात से विदाई कर दें. केंद्र सरकार हर मोर्चे पर विफल हैं. गुजरात में 24 घंटे के अंदर नौ बच्चों की हुई मौत पर भी हमलावर थे.

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने रविवार को कहा कि भाजपा शासित राज्यों में कोई व्यवस्था नहीं है. यूपी के गोरखपुर के बाद अब गुजरात मेें बच्चों की मौत हुई है. उन्होंने कहा कि भाजपा शासित राज्यों में सरकार पूरी तरह फेल है. चारों तरफ कुव्यवस्था है. बच्चे मर रहे हैं, लेकिन कोई देखनेवाला नहीं है. अस्पतालों में मरीजों को कोई सुविधा नहीं मिल रही है.

बता दें कि गुजरात के अहमदाबाद स्थिति सिविल अस्पताल में 9 नवजात बच्चों की पिछले 24 घंटे में हो गई. मीडिया में छन कर आ रही खबरों के अनुसार पांच बच्चों को दूसरे अस्पतालों से रेफर कर यहां भेजा गया था, जबकि 4 यहीं पैदा हुए थे. बताया जा रहा है कि बच्चे बेहद कमजोर थे और उन्हें कई गंभीर बीमारियां थीं. इलाज के क्रम में ही सभी नवजातों की मौत हो गयी. मालूम हो कि इसके पहले यूपी के गोरखपुर में 200 से अधिक बच्चों की मौत हो गयी थी.

Below Post Banner
After Tags Post Banner 2
After Tags Post Banner 1
After Related Post Banner 3
After Related Post Banner 2
After Related Post Banner 1

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Close